धर्म के आगे क्यों गलत सही का अंतर भूलते जा रहे हैं हम

और आज गर्मागरम मुद्दा हैं प्रज्ञा ठाकुर और उनके बयान…. वैसे तो चर्चाओं में रहना इनके जीवन का एक खास हिस्सा है लेकिन इस बार ये थोड़ा भारी पड़ गया, खैर ये वो है जो बखूबी जानती हैं कि चर्चाओं में रहना आज के समय कितना जरुरी है… एक समय था जब लोग कुछ ऐसा कारनामा करना चाहते थे कि उनका बातें होती रहें आज भी ऐसा ही कुछ है लेकिन तब वो कारनामा किसी महान काम को कहा जाता था और आज… खैर छोड़िए कारनामा तो कारनामा है, और महत्वपूर्ण है चर्चाओं में रहना
अब बात करते हैं साध्वी प्रज्ञा ठाकुर जी का बुधवार को लोकसभा में संसद की कार्यवाही के दौरान साध्वी प्रज्ञा ने नाथूराम गोडसे को देशभक्त कहा था, हालांकि इसपर मचे बवाल के बाद इस बयान को लोकसभा की कार्यवाही से हटा दिया गया था. हालांकि, तबतक इसपर राजनीतिक तूफान मच चुका था… गौरतलब है कि ऐसा पहली बार नहीं है जब साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताया हो. इससे पहले भी लोकसभा चुनाव के दौरान साध्वी ने नाथूराम गोडसे को देशभक्त कहा था, तब उनके बयान को भाजपा की अनुशासन कमेटी में भेज दिया गया था. वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी बयान दिया था कि वह कभी भी साध्वी प्रज्ञा को दिल से माफ नहीं कर पाएंगे.
अब ऐसा मौका कोई कैसे छोड़ सकता है, तो राहुल जी ने भी अपना बयान दे डाला, भारतीय जनता पार्टी (BJP) की सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के द्वारा महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताने पर राजनीतिक बवाल मच गया है. कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने साध्वी पर हमला करते हुए ट्वीट किया. राहुल गांधी ने लिखा, ‘आतंकी प्रज्ञा ने आतंकी गोडसे को देशभक्त बताया’,
ये बवाल कहां तक जाएगा और कहां जाकर रुकेगा ये तो वक्त बताएगा, पर लगता राजनीतिक गलियारे में उथल पुथल तेज हो गई है, और बीजेपी के दिन अच्छे नहीं चल रहे

Pratiksha Srivastava

Pratiksha Srivatava has a keen interest in writing news blogs info articles related to health, politics, food, entertainment, sports, fashion.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *