भारत का विरोध करने वाले महातिर का यू-टर्न

भारत का विरोध करने वाले महातिर का यू-टर्न

कश्मीर मुद्दे पर यूनाइटेड नेशन्स मैं भारत को आक्रमणकारी बोलने वाले महातिर मलेशिया के वर्तमान प्रधानमंत्री है। इनकी सरकार को प्रो-मुस्लिम माना जाता है, ये गलत बयान देने के लिए कई बार दुनियाभर में सुर्खियां बटोर चुके है।

हाल ही में हुए यू.एन सबमिट में इन्होंने कश्मीर मुद्दे पर बयान देते हुए कुछ ऐसा बोला जिसने सिर्फ भारत ही नही सारी दुनिया भर के देशो को अचम्भे में डाल दिया। महातिर सरकार को पाकिस्तान परस्त सरकार कहा जाना गलत नही होगा क्योंकि इनके सत्ता में आने के बाद पाकिस्तान, तुर्की, मलेशिया के सम्बन्धो में काफी सुधार देखने को मिला है। इन्ही सम्बन्धो का परिणाम महातिर का यू.एन में दिए जाने वाला बयान है।

महातिर ने भाषण के दौरान कहा। “कश्मीर जो की अलग देश है उस पर कब्जा कर लिया गया है। वहाँ पर मानव अधिकारों का हनन हो रहा है।”

जो की सीधे-सीधे भारत के विरोध में बोला गया। इसके बाद उनके देश में भी महातिर के भाषण की निंदा की गयी। हालांकि अब तक भारत सरकार ने प्रत्यक्ष रूप से कोई कदम नही लिया है, मगर भारत के व्यापारी जो मलेशिया से पाम आयल का आयात करते थे अब नही कर रहे है जिससे मलेशिया की अर्थव्यवस्था को काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है।

वर्तमान में भारतीय व्यापारियों के ये कदम उठाने पर मलेशियन सरकार चिंता में नजर आ रही है। हाल ही में मलेशिया के एक मंत्री ने कहा हमारी सरकार भारत के साथ मजबूत रिश्ते चाहती है इसलिए हम भारत से गन्ने और अन्य वस्तुएँ आयात करने पर विचार कर रहे है।

विशेषज्ञ मानते है की ये कदम भारत सरकार द्वारा ही उठाया गया जो कि अप्रत्यक्ष था

Pratiksha Srivastava

Pratiksha Srivatava has a keen interest in writing news blogs info articles related to health, politics, food, entertainment, sports, fashion.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *