बही-खाते का खुला पिटारा, सौगातों की आई बहार?.. पिटारे से निकला सपनों का घर और महिलाओं के लिए तोहफे

बही-खाते का खुला पिटारा, सौगातों की बहार आई.. इस पिटारे से निकला सपनों का घर और महिलाओं के लिए तोहफे… दोस्तों ये बजट आया… और खूब तोहफे लाया

व‍ित्‍त मंत्री न‍िर्मला सीतारमण ने मोदी सरकार 2.0 का पहला बजट पेश कर द‍िया है। उन्‍होंने भाषण की शुरुआत मंजूर हाशमी के शेर से की। यह शेर था- यकीन हो तो कोई रास्ता निकलता है, हवा की ओट भी ले कर चिराग जलता है। वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने लगभग दो घंटे 10 मिनट तक बजट भाषण पढ़ा। आइए जानते हैं कि इस बजट में कौन सी चीजों के दाम बढ़ेंगे और कौन-सी चीजें सस्ती होंगी। 

वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण के इस बजट के बाद पेट्रोल-डीजल, सोना, काजू महंगे हो जाएंगे। पेट्रोल और डीज़ल पर 1 रुपये प्रति लीटर की कस्टम ड्यूटी बढ़ाई गई है। सोने पर इंपोर्ट ड्यूटी 10 फीसदी से बढ़ाकर 12.5 फीसदी की गई है। सोने पर 2.5 फीसदी आयात शुल्‍क बढ़ा दिया गया है जिससे दाम में इजाफा होगा। 

Also Read: शायराना अंदाज में नजर आईं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, मंजूर हाशमी का शेर पढ़कर शुरू किया भाषण

ये हुआ महंगा
पेट्रोल-डीजल, सोना, काजू महंगे होंगे। आयात शुल्‍क में इजाफा होने से कई चीजों के दाम भी बढ़ेंगे। आयातित किताबों पर पांच प्रतिशत का शुल्‍क लगेगा। ऑटो पार्ट्स, सिंथेटिक रबर, पीवीसी, टाइल्‍स भी महंगी हो जाएंगी। तंबाकू उत्‍पाद भी इस बजट के बाद महंगे हो जाएंगे। सोने के अलावा चांदी और चांदी के आभूषण खरीदने के लिए भी अतिरिक्‍त रुपये खर्च होंगे। ऑप्टिकल फाइबर, स्‍टेनलेस उत्‍पाद, मूल धातु के फ‍िटिंग्‍स, फ्रेम और सामान, एसी, लाउडस्‍पीकर, वीडियो रिकॉर्डर, सीसीटीवी कैमरा, वाहन के हॉर्न, सिगरेट आदि महंगे हुए हैं। तेल रसायन और साबुन बनाने में उपयोग करने के ल‍िए जैतून ऐसटिरिन और अन्‍य तेल जिसमें 20 प्रतिशत या इससे अधिक वसायुक्‍त अम्‍ल हो, बुटाइल रबर, अखबारी कागलज, वॉल टाइलें, पॉवर एडेप्‍टर, विंकस्‍क्रीन वाइपर्स, ऑटोमोबाइल के लैम्‍प और बीम लाइट, घर्षण सामग्री, मोटर वाहनों में इस्‍तेमाल किए जाने वाले ताले महंगे हुए हैं। 

Also Read: लंदन की सड़कों से संसद के गलियारों तक, 59 साल की निर्मला सीतारमण ने ऐसे तय किया सफर

ये हुआ सस्‍ता
बजट 2019 के बाद इलेक्ट्रिक कारें सस्‍ती हो जाएंगी। अभी ये कारें चलन में नहीं हैं लेकिन दाम कम होने से इन कारों का इस्‍तेमाल अधिक होगा। बजट के बाद होम लोन लेना भी सस्‍ता होगा, मतलब घर खरीदना सस्‍ता होगा। सस्ते घरों के लिए ब्याज पर 3.5 लाख रुपये की छूट मिलेगी। साबुन, शैंपू, बालों का तेल, टूथपेस्‍ट, डेटरजेंट, बिजली का घरेलू सामान जैसे पंखे, लैम्‍प, ब्रीफ केस, यात्री बैग, सेनिटरी वेयर, बोतल, कंटेनर, रसोई में प्रयुक्‍त सामान जैसे बर्तन, गद्दा, बिस्‍तर, चश्‍मों के फ्रेम, बांस का फर्नीचर, पास्‍ता, मयोनेज, धूपबत्‍ती, नमकीन, सूखा नारियल, सैनिटरी नैपकिन। ऊन और ऊनी धागे, खाद्य वस्‍तुएं जैसे चॉकलेट, वैफर्स, कस्‍टर्ड पाउडर, संगीत के उपकरण, ग्‍लासवेयर, पॉट, कुकर, चूल्‍हा, लाइटर, प्रिंटर, मैग्‍नीशियम ऑक्‍साइट की परत वालं ठंडा रोल्‍ड इस्‍पात की कॉयल, गर्म रोल्‍ड कॉयल, ठंडा रोल्‍ड फूल हार्ड, कोबाल्‍ट धातु और कोबाल्‍ट धातु के अन्‍य मध्‍यवर्ती उत्‍पाद, ऊनी वस्‍त्र सस्‍ते। 

Pratiksha Srivastava

Pratiksha Srivatava has a keen interest in writing news blogs info articles related to health, politics, food, entertainment, sports, fashion.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *